Search This Website

Saturday, 24 January 2015

Happy Republic Day

Happy Republic Day 

सोचता हूँ क्या दे पाउँगा जो मैंने पाया है इस देश से

क्या मैं कभी चुका पाउँगा जो मैंने पाया है इस देश से ||
फेलाना है मुझे देश सम्मान की भावना
शायद इस तरह नज़र मिला पाऊं इस देश से ||

खोया है हर नागरीक जाने किस होड़ मैं

दिलाना है याद उसे इस देश की ||
मौका है गडतंत्र दिवस
मिल के सुंदरता बढ़ाना है इस देश की ||



No comments:

Post a Comment

Note: only a member of this blog may post a comment.